Digital clock

Tuesday, May 27, 2014

Family se bada dhan nahi,,,,,,,,,,,

Photo

हर एक शख्स ने अपने अपने तरीके से इस्तेमाल किया हमें..

हर एक शख्स ने अपने अपने तरीके से इस्तेमाल किया हमें..
और हम समझते रहे लोग हमें पसंद करते हैं !!

Unhone jate jate.......

Photo

Hum Se Door Ho Kar Hamare Paas Ho Tum

Hum Se Door Ho Kar
Hamare Paas Ho Tum

Hamari Suni Zindagi Ki
Aas Ho Tum

Kon Kehta Hai Hum Se
Bichad Gaye Ho Tum

Hamari Yaadon Mein
Hamare Saath Ho Tum

Photo: Hum Se Door Ho Kar
Hamare Paas Ho Tum

Hamari Suni Zindagi Ki
Aas Ho Tum

Kon Kehta Hai Hum Se
Bichad Gaye Ho Tum

Hamari Yaadon Mein
Hamare Saath Ho Tum

वजह तो नफरतों की तलाशी जाती हैं..!

वजह तो नफरतों की तलाशी जाती हैं..!
मोहब्बतें .....तो बिना वजह ही हो जाती हैं ....!

कुछ तो शराफत सीख ले ऐ मोहब्बत, शराब से ..

कुछ तो शराफत सीख ले ऐ मोहब्बत, शराब
से ..

बोतल पे कम से कम लिखा तो है कि "मै
जानलेवा हूँ "

Tere pyar ki hume jarurat bahut thi,

Tere pyar ki hume jarurat
bahut thi,

par tujhe pane ki kimat
bahut thi,

Aakhiri sans tak tera intazar
kiya tha humne,

Par tujhe wada karke bhul jane ki
aadat bahut thi..!!
Photo: Tere pyar ki hume jarurat 
bahut thi,

par tujhe pane ki kimat
bahut thi,

Aakhiri sans tak tera intazar 
kiya tha humne,

Par tujhe wada karke bhul jane ki 
aadat bahut thi..!!

"मुझको पढ़ना हो तो मेरी शायरी पढ़ लो....

"मुझको पढ़ना हो तो मेरी शायरी पढ़ लो....
लफ्ज़ बेमिसाल ना सही, 
ज़ज़्बात लाजवाब होंगे!! "

मुद्दतों बाद जब उनसे बात हुई

मुद्दतों बाद जब उनसे बात हुई
तो बातों बातों में मैंने कहा
"कुछ झूठ ही बोल दो"

और वो हँस के बोले
तुम्हारी याद बहुत आती है!!!

सुन कर शायरी मेरी,

सुन कर शायरी मेरी, 
वो अंदाज़ बदल कर बोले,

कोई छीनो कलम इससे, 
ये तो जान ले रहा है....!!

Sookhe Patto ki Tarah bikhre hue the hum,

Sookhe Patto ki Tarah bikhre hue the hum,
To kya huaa..!
Dard to is baat ka hai ki,
Kisi ne sameta bhi to sirf jalane ke liye..!

"वो अधनंगा बच्चा ठीक उसी दूकान के बाहर खड़ा था .

"वो अधनंगा बच्चा ठीक उसी दूकान के बाहर खड़ा था ... चमचमाते नए कपड़े .... जहां पुतलों ने पहन रखे थे ..."

जिन के आँगन में अमीरी का पेड़ लगता हैं,

जिन के आँगन में अमीरी का पेड़ लगता हैं,
उनका हर ऐब ज़माने को हुनर लगता हैं ।

आज़ाद कर देंगे तुम्हे अपनी मोहब्बत

आज़ाद कर देंगे तुम्हे अपनी मोहब्बत
की क़ैद से..!
करे जो हमसे बेहतर क़दर तुम्हारी, पहले
वो शख्स तो ढूँढ लाओ ना ...!

मुझे नींद की इजाज़त भी उसकी यादों से लेनी पड़ती है;

मुझे नींद की इजाज़त भी उसकी यादों से लेनी पड़ती है;
जो खुद तो सो जाता है, मुझे करवटों में छोड़ कर!

मेरे लफ़्ज़ों से न कर

मेरे लफ़्ज़ों से न कर
मेरे क़िरदार का फ़ैसला ll
तेरा वज़ूद मिट जायेगा 
मेरी हकीक़त ढूंढ़ते ढूंढ़त